बासी रोटी बीमारियां नही, बल्कि शरीर को होते हैं भिन्न प्रकार के लाभ, कमजोर शरीर वाले जरूर पढ़ें

baasi roti ke faayde

आज बासी रोटी को बीमारी का कारण माना जाता है, लेकिन किसी समय में पुराने लोग सुबह चाय के साथ बासी रोटी खाते थे. उनके शरीर मजबूत और उन्हें बीमारी नही लगती थी.

रोटी का नाता इंसान के साथ बहुत पुराना है. रोटी के लिए ही इंसान काम करता है और जीवन भर रोटी के लिए मेहनत करता है. रोटी भारत,पाकिस्तान,बांग्लादेश और जहां भारतीय सभ्यता के लोग रहते है वहां बनाई जाती है. पुराने जमाने मे लोग रोटी के इलावा चावल खाते थे इसके इलावा कुछ नही. सुबह के खाने में लोग नाश्ते में लोग चाय के साथ बासी रोटी खाते थे. बासी रोटी उन्हें बहुत फायदा देती थी, जिसकी वजह से वो तंदरुस्त रहते थे. उन फायदों के बारे में आज आपको हम बताने जा रहे हैं.

(1) ताकत बढ़ाने का काम करती है

अगर हम सुबह खाली पेट चाय के साथ बासी रोटी का सेवन नाश्ते में करते हैं, तो ये हमारे शरीर की कार्बोहाइड्रेट के साथ बेहतरीन ऊर्जा प्रदान करती है. उस दौरान हमारे शरीर में ऊर्जा का स्तर सामान्य से दोगुना हो जाता है.

(2)पेट की बीमारी होंगी दूर

बासी रोटी खाने से पेट की हर प्रकार की बीमारी दूर होती है. इस से गैस बनने, पेट फूलना , कब्ज यह सब बीमारियां दूर होती हैं. दरअसल बासी रोटी में प्रचुर मात्रा में फाइबर होता है. यह इन सभी प्रकार की बीमारियों को खत्म करने की ताकत रखता है.

(3) नियंत्रित रहेगा शरीर का तापमान

हमारे शरीर का तापमान 37 डिग्री सेल्सियस होता है. हालांकि कई वजहों से ये तापमान घटता और बढ़ता भी रहता है. 40 के ऊपर तापमान का होना शरीर के कुछ महत्वपूर्ण अंगों को नुकसान पंहुचा सकता है. ऐसे में बासी रोटी का सेवन करने से शरीर का तापमान नियंत्रित रहता है. शरीर का तापमान नियंत्रित रहने की वजह से कोई बीमारी हमारे नजदीक नही आती.

(4) बेहतरीन बॉडी बनाने के लिए

बासी रोटी में करीब हर प्रकार का पोषक तत्त्व मौजूद होता है. बासी रोटियां सुबह खाने के बर्फ अगर व्यायाम किया जाए तो यह आपकी बॉडी को बहुत फायदा देगा. इससे तत्व शरीर के हर मसल्स मजबूती प्रदान करते हैं. इसके साथ ही शरीर से स्टेमिना भी बढता है.

(5) डायबिटीज (मधुमेह) रोग के लिए फायदेमंद

डायबिटीज आज के समय मे सबसे खतरनाक बीमारी है. डायबिटीज को नियंत्रित रखा जा सकता है लेकिन इसे जड से खत्म नही किया जा सकता. बासी रोटी खाने से शरीर में शुगर लेवल कंट्रोल में बना रहता है. ये इंसुलिन को नियंत्रित कर खून में पाई जाने वाली अतिरिक्त शुगर की मात्रा को कम करने में मदद करता है. इस से डायबिटीज के लिए महंगी दवाइयों पर होने वाला खर्च का पैसा भी बच जाता है.

यह भी पढ़ें : टीनएज में अपने बालों की कैसे जाए देखभाल, जानियें कुछ बेहतरीन टिप्स

20 Shares
Tweet
Share
Pin
Share20