कश्मीर के पुलवामा में आतंकी हमले में भारत के 40 जवान शहीद, मोदी बोले कार्यवाही कडी होगी

आतंकवाद का कोई धर्म नही होता लेकिन जब कश्मीर घाटी में आतंकवादियों को सेना गोली से उड़ा देती है, तो उसका इस्लामिक परंपरा से अंतिम संस्कार क्यों किया जाता है ?

आज 14 फरवरी 2019 के दिन भारत के लिए काला दिन माना जायेगा, आज भारत के 40 जवान देश की रक्षा करते हुए शहीद हो गए. यह हमला कहीं ना कहीं केंद्र में बैठी भाजपा की मोदी सरकार को बहुत नुकसान पहुंचाने वाला है, अगर भाजपा की केंद सरकार नें पाकिस्तान के जवानों की लाशें भारत वासियों के कदमों में लाकर ना गिराई तो, आज भारत के लोगों के दिलों में एक बार फिरसे आक्रोश है, दिल में दर्द है और बदले की आग भी है.

Source

किया गया है फिदायीन हमला, जिसमें आईडी विस्पोटक का इस्तेमाल किया गया।

ताजा सूचना के मुताबिक कश्मीर के पुलवामा में CRPF सेना का काफिला गाडी से जा रहा था, सेना की गाड़ी में छोटी कार में आईडी जैसा घातक विस्पोटक लोड करके टकरा दिया गया. इसके इसके बाद गाडी के ऊपर गोलियां भी चलाई गई, इस हमले में सेना के 40 जवान शहीद हो गए और 18 से 20 जवान गंभीर रूप से घायल हैं.

Source

प्रधानमंत्री मोदी समेत दूसरे नेताओं नें कहा कि बदला लिया जाएगा.

प्रधानमंत्री मोदी जी नें आतंकवादी हमले की निंदा करते हुए, सेना के शहीद जवानों के प्रति संवेदनायें जताई, और इसके साथ ही कहा कि पाकिस्तान इसका बदला ऐसे लिया जाएगा कि पाकिस्तान कभी नही भूलेगा. केंद्रीय मंत्री जर्नल वीके सिंह ने कहा कि मेरे खून में उबाल है, हम सेना के खून के एक-एक कतरे का हिसाब लेंगे

45 Shares
Tweet
Share
Pin
Share45